म्युचुअल फंड्स स्कीम्स  की फिर से श्रेणियाँ बन जाने पर, एक नई श्रेणी का म्युचुअल फंड उभर कर सामने आया है -द लार्ज एन्ड मिडकैप फंड (बड़ी और मध्यम पूंजी वाला फंड)

सेबी ने जो अब नई प्रणाली बनाई है उसमें 36 श्रेणियों के म्युचुअल फंड्स हैं।

श्रेणियाँ बनाने का मूल उद्देश्य इन फंड्स को उनके इन्वेस्ट  के धन के इस्तेमाल और गुणों के आधार पर अलग अलग हिस्सों में बाँट देना है।

Best Large and Mid Cap Fund - At a Glance
Fund Name 1Y 3Y 5Y Expense Ratio Turnover Ratio Category Risk
Principal Emerging Bluechip Fund - Direct - Growth -3.22% 14.6% 16.86% 0.86% 67% Equity
(Large & Mid Cap)
Moderately High
Mirae Asset Large Cap Fund - Direct - Growth 9.77% 16.27% 15.25% 0.64% 14% Equity
(Large Cap)
Moderately High
Canara Robeco Emerging Equities - Direct - Growth 1.35% 16.16% 18.7% 0.82% 29% Equity
(Large & Mid Cap)
Moderately High
DSP Equity Opportunities Fund - Direct - Growth 2.68% 13.4% 13.75% 0.96% 66% Equity
(Large & Mid Cap)
Moderately High
Invesco India Growth Opportunities Fund - Direct - Growth 2.85% 15.1% 14.75% 1.06% 7% Equity
(Large & Mid Cap)
Moderately High

2019 के सबसे अच्छे लार्ज कैप और मिड कैप फंड्स – विवरण

जैसा कि  नाम से पता लगता है इस  श्रेणी के फंड्स, ज्यादातर बड़ी और मध्यम साइज (बड़ी और मध्यम पूँजी वाली) कम्पनियों में इन्वेस्ट  करते हैं। ये हैं 2018 के 5 सबसे अच्छे लार्ज एन्ड मिडकैप फंड्स।

1. प्रिंसिपल इमर्जिंग ब्लूचिप फंड

यह 2018  में इन्वेस्ट करने के लिए सबसे अच्छे लार्ज कैप और मिड कैप फंड्स में से एक है। यह एक ओपन-एंडेड फंड है और बहुत ज्यादा जोखिम (रिस्क)वाला है। लेकिन , इस फंड ने बढ़िया रिटर्न्स देकर अपने आपको सिद्ध किया है और लांच के समय से इसकी रिटर्न 23.81% है।     

महत्वपूर्ण सूचना  

लॉन्च की तारीख़ 01 जनवरी 2013
एनएवी (NAV )13 दिसंबर 2018 को ₹106
प्लॉन टाइप डायरेक्ट
ग्रो द्वारा रेटिंग 3 स्टार
एयूएम( AUM )    ₹1,625 करोड़
जोख़िम का दर्जा (रिस्कोमीटर) बहुत ऊँचा
न्यूनतम सिप (SIP)    ₹500
न्यूनतम एस डब्ल्यू पी (SWP) ₹500
अपने बेंच मार्क के मुकाबले में परफॉरमेंस अपने बैंचमार्क निफ़्टी लार्ज मिडकैप 250 टीआरआई के मुकाबले लॉन्च होने से अब तक लगातार ज़्यादा अच्छा प्रदर्शन किया है।    
फंड की आयु 5 साल पुराना
खर्च अनुपात (एक्सपेंस रेशो)        1.25%
एग्ज़िट लोड अगर 0 से 1 वर्ष के बीच रिडीम करवाने पर  1% एग्ज़िट लोड
टाइप   ओपन एंडेड

विश्लेषण

इसके लॉन्च के समय से लेकर अब् तक इस फाइव स्टार फंड ने अपने बैंचमार्क  को एक बड़े अंतर् से पार कर लिया है।

यह फंड उन कंपनियों की में इन्वेस्ट करता है जिनमें अगले दो से तीन वर्षों में बढ़ोतरी और लाभ की दरों की सम्भावनाएँ अच्छी होती हैं।

यह फंड उन कंपनियों में इन्वेस्ट करता है जिनके मैनेजमेंट  का पिछले कार्यों का लेखा-जोखा अच्छा होता है और जो अच्छे मूल्यों पर खरीदे-बेचे जा रहे होते हैं। यह खास तौर पर उन स्टॉक्स में इन्वेस्ट करता है जो किसी संस्थाओं के तहत आते हैं।

2019 में इन्वेस्ट करने  के लिए 5 सबसे अच्छे हाइब्रिड फंड्स

यह फंड खास तौर पर लार्ज– कैप्स और मिड– कैप्स दोनों  के लिए 40 %-40% रखता है , और बचा हुआ स्मॉल–कैप में बाँटता  है। इन दिनों में, यह इस श्रेणी के मुकाबले लार्ज–कैप्स को ज्यादा महत्व दे रहा है।  

होल्डिंग्स

2. कैनरा रोबेको इमर्जिंग इक्विटीज

यह लार्ज और मिड-कैप केटेगरी (श्रेणी) का सबसे अच्छी परफॉर्मेंस वाला फंड है। यह एक ज्यादा रिस्क वाला फंड है और इसने अपने लॉन्च से लेकर अब तक 25.87% का रिटर्न दिया है।  

महत्वपूर्ण  सूचना

लॉन्च की तारीख़ 01 जनवरी 2013
एनएवी (NAV )13 दिसंबर 2018 को ₹93.9
प्लॉन टाइप डायरेक्ट
ग्रो द्वारा रेटिंग 4 स्टार
एयूएम( AUM )    ₹3,937 करोड़  
जोख़िम का दर्जा (रिस्कोमीटर) थोड़ा सा ज्यादा
न्यूनतम सिप (SIP)    ₹1,000
न्यूनतम एस डब्ल्यू पी (SWP) ₹1,000
अपने बेंच मार्क के मुकाबले में परफॉरमेंस लॉन्च से लेकर अब तक अपने बैंचमार्क एसएंडपी बीएसई 200 टीआरआई के मुकाबले लगातार ज़्यादा  अच्छा परफॉर्म किया है।
फंड की आयु 5 साल पुराना
खर्च अनुपात (एक्सपेंस रेशो)        0.96%
एग्ज़िट लोड अगर 0 से 1 वर्ष के बीच रिडीम करवाते हैं तो  1% एग्ज़िट लोड
टाइप   ओपन एंडेड

विश्लेषण  

इस फंड को फाइव स्टार रेटिंग दी गयी है।

यह फंड किसी एक सेक्टर/क्षेत्र पर भरोसा नहीं रखता है और यह  मिड-कैप्स की तरफ झुकाव रखते हुए सभी सेक्टर्स(क्षेत्रों)में मौके ढूँढता है।

यह  फंड उन कंपनियों को पहचानने की कोशिश करता है जिनमें भविष्य में अपने-अपने क्षेत्र में सबसे आगे बढ़ने की क्षमता होती है।

2019 में इन्वेस्ट  के लिए 5 सबसे बढ़िया लार्ज- कैप फंड्स : सबसे कम जोख़िम वाले इक्विटी म्युचुअल फंड जिनमें आप इन्वेस्ट  कर सकते हैं

यह फंड सही दाम पर उन कपनियों को चुनता है जो लगातार बाजार के मुकाबले ज्यादा बढ़ोतरी दिखाती हैं|  

होल्डिंग

3. डीएसपी ब्लैकरॉक इक्विटी अपरच्युनिटीज़ फंड

इस फंड ने पिछले 1 साल में अच्छा परफॉर्म नहीं किया है। यह फंड एक थोड़ा ज्यादा जोख़िम वाला फंड है और इसने अपने लॉन्च होने से लेकर अब तक 17.35 % का रिटर्न दिया है।    

Key information

महत्वपूर्ण  सूचना

लॉन्च की तारीख़ 01 जनवरी 2013    
एनएवी (NAV )26 जुलाई 2018 को ₹217.3
प्लॉन टाइप डॉयरेक्ट
ग्रो द्वारा रेटिंग 3 स्टार
एयूएम (फंड साइज़)

  

₹5,326 करोड़
जोख़िम का दर्जा (रिस्कोमीटर) थोड़ा सा ज्यादा
न्यूनतम सिप (SIP)    ₹500
न्यूनतम एस डब्ल्यू पी (SWP) ₹500
अपने बेंच मार्क के मुकाबले परफॉरमेंस अपने लॉन्च होने से लेकर अब तक अपने बैंचमार्क निफ्टी 50 के कुल रिटर्न के मुकाबले लगातार ज्यादा अच्छा रिटर्न नहीं दिया है।  
फंड की आयु 5 साल पुराना
खर्च अनुपात (एक्सपेंस रेशो)       1.09 %
एग्ज़िट लोड यदि 0 से 1 साल के बीच रिडीम किया जाए तो एग्ज़िट लोड 1% है
टाइप   ओपन एंडेड

 

विश्लेषण  

इस योजना का लक्ष्य लॉन्ग टर्म कैपिटल एप्रिसिएशन (लम्बे समय में पूँजी की बढ़ोतरी) का है। इसका दूसरा लक्ष्य कमाई करना और इक्विटी और इक्विटी से संबन्धित सिक्योरिटीज से बने पोर्टफोलियों से डिविडेंड (लाभांश) देना है।   

2019 में इन्वेस्ट करने के लिए सबसे अच्छे म्युचुअल फंड्स

यह एक फ्लेक्सी कैप फंड है जिसमें मार्केट कैपिटलाइज़ेशन की कोई सीमा नहीं है। लेकिन ,इस फंड का झुकाव लार्ज कैप्स की तरफ रहा है।

हाल  में, फंड ने अपना 70% से ज़्यादा लार्ज-कैप में और मिडकैप स्टॉक्स में लगभग 20 % तक इन्वेस्ट किया है।

होल्डिंग

4. इन्वेस्को इंडिया ग्रोथ अपरच्युनिटीज़ फंड  

यह  थोड़ा ज़्यादा  जोखिम वाला एक फंड है लेकिन इसने अपने  लाँच होने से लेकर अब तक 17.35 % का रिटर्न दिया है।

महत्वपूर्ण  सूचना

लॉन्च की तारीख़ 01 जनवरी 2013
एनएवी (26 जुलाई 2018) ₹35.2
प्लॉन टाइप डॉयरेक्ट
ग्रो द्वारा रेटिंग 5 स्टार
एयूएम (फंड साइज़)

  

₹892 करोड़
जोख़िम का दर्जा (रिस्कोमीटर) थोड़ा ज्यादा
न्यूनतम सिप (SIP)    ₹500
न्यूनतम एस डब्ल्यू पी (SWP) ₹1,000
अपने बेंच मार्क के मुकाबले परफॉरमेंस अपने लॉन्च होने से अब तक अपने बैंचमार्क एसएंडपी बीएसई 250 लार्ज मिडकैप टीआरआई के मुकाबले  लगातार अच्छा प्रदर्शन किया है।
फंड की आयु 5 साल पुराना
खर्च अनुपात (एक्सपेंस रेशो)       1. 09%
एग्ज़िट लोड यदि 0 और 1साल के बीच रिडीम किया जाए(पैसा वापस लिया जाए)तो एग्जिट लोड 1%
टाइप   ओपन एंडेड

 

विश्लेषण

यह योजना मुख्य रूप से लार्ज और मिड कैप इक्विटी और इक्विटी से संबंधित इंस्ट्रूमेंट्स के एक डाइवर्सिफाइड पोर्टफोलिओ से  पूँजी में बढ़ोतरी करने (कैपिटल एप्रिसिएशन) की कोशिश करती है।

इक्विटी मार्केट्स में उतार-चढ़ाव को देखते हुए , यह जरूरी है कि इकॉनमी/अर्थव्यवस्था के संगठित क्षेत्र (ऑर्गनाइज़्ड पार्ट) में लम्बे समय से स्थापित बड़ी कम्पनियों में ही इन्वेस्ट किया जाए।  

देखें, क्या आपको 2019 में बैंकिंग क्षेत्र में इनवेस्ट करना चाहिए   

इसलिए , म्युचुअल फंड इन्वेस्टर्स को इन्वेस्को इंडिया ग्रोथ स्कीम में इन्वेस्ट करना चाहिए क्योंकि ये ज्यादातर ऐसी बड़ी कम्पनियों में ही इनवेस्ट करती है।  

होल्डिंग

लार्ज और मिड कैप फंड कैटेगरी क्या है?  

आजकल, कुछ लार्ज-कैप स्कीम् (योजनाएँ) अपने पोर्टफोलिओ में एक बड़ा हिस्सा मिड-कैप स्टॉक्स का रखती हैं।  

लेकिन, इसमें चिंता की बात ये है कि ऐसा ‘स्टाइल ड्रिफ्ट’ इन्वेस्टर को जोख़िम में डाल देता है। इस नई लार्ज एंड मिडकैप इक्विटी फंड कैटेगरी को शुरू करने का यह एक मुख्य कारण है।                      

म्युच्युअल फंड की नई कैटेगरीज़(श्रेणियाँ): इनका अर्थ जानिए, और जानिए कि क्या आपको नई कैटेगरीेज़ में इन्वेस्ट  करना चाहिए

सेबी की परिभाषा के अनुसार, लार्ज एंड मिडकैप फंड कैटेगरी को हर  लार्ज -कैप और मिडकैप स्टॉक्स में कम से कम 35%इन्वेस्ट करना होगा, जबकि बाकी को दोनों में से किसी में भी इन्वेस्ट  किया जा सकता है।

75% के बाद फंड मैनेजर अपने अनुसार आवंटन कर सकता है।

महत्वपूर्ण  सूचना :

स्कीम का प्रकार इक्विटी स्कीम
परिभाषा एक ओपन एंडेड इक्विटी म्यूचुअल फंड जो कि भारतीय बाज़ार के लार्ज कैप और मिड कैप दोनों स्टॉक्स में इन्वेस्ट करते हैं
असेट एलोकेशन (संपत्ति का आवंटन) इक्विटी और इक्विटी से जुड़े लार्ज कैप स्टॉक्स इंस्ट्रूमेंट्स में न्यूनतम इन्वेस्टमेंट  – कुल असेट का 35% और मिड कैप स्टॉक – कुल असेट का 35%

इन्वेस्टमेंट स्टाइल

अगर आप एलोकेशन देखें, तो यह एक मल्टी-कैप फंड जैसा है।

इन दो कैटेगरीज़ में जो अन्तर है वो यह है कि मल्टी-कैप फंड लार्ज और मिडकैप स्टॉक्स में एलोकेशन का बहुत सख्ती से पालन नहीं करते हैं।

केवल एक ही नियम का पालन करना होता है कि कम से कम 65% इन्वेस्टमेंट इक्विटी से जुड़े इंस्ट्रूमेंट्स में किया जाए।

याद रखने योग्य बातें

म्युच्युअल फंड्स में इन्वेस्ट  करने से पहले नीचे दी गई कुछ ज़रूरी बातें आपको ज़रूर याद  रखनी चाहिए :

1. ऊँची दरें

सबसे ज़्यादा रिटर्न देने वाले फंड में आँख बंद करके पैसा ना लगाएँ। जितनी समय अवधि के लिए आप इन्वेस्ट  करना चाहतें हैं, उसी समय अवधि के आधार पर इन्वेस्ट करें।

हर व्यक्ति की आर्थिक स्थिति अलग-अलग होती है। आप खुद से हिसाब लगाएँ कि आप कितना इन्वेस्ट  कर सकते हैं–किसी फंड की लोकप्रियता के कारण पैसा न लगाएँ।

2. सिप (SIP)  

इक्विटी-ऑरिएंटड म्युचुअल फंड्स लम्बे समय के लिए सिस्टेमैटिक इन्वेस्टमेंट प्लॉन (सिप) द्वारा इन्वेस्ट करने के लिए सबसे अच्छे रहते हैं।  

इक्विटी-ऑरिएंटड म्युचुअल फंड्स इन्वेस्ट करने के लिए सिप(SIP) एक ज़्यादा अच्छा और ज़्यादा  सुरक्षित विकल्प है।

म्युचुअल फंड्स के डायरेक्ट प्लान आपको म्युचुअल फंड योजनाओं के रेगुलर (नियमित) प्लॉन के मुकाबले ज्यादाऊँचे रिटर्न्स देते हैं।  

एसटीपी (सिस्टेमैटिक ट्रांसफर प्लॉन) उन इन्वेस्टर्स के लिए सबसे अच्छा है जो म्युचुअल फंड योजनाओं (स्कीम्स) में एक मुश्त रकम (लम्प-सम) लगाना चाहते हैं क्योंकि इस तरह उनको जितनी रिस्क है उसके मुकाबले दोहरे लाभ मिलते हैं।    

दैनिक सिप (SIP) बनाम मासिक सिप(SIP)-आपको कौन सी चुननी चाहिए ?

3.अपने इन्वेस्टमेंट की समीक्षा  

यह जरूरी है कि आप  अपने इन्वेस्ट की समय-समय पर समीक्षा(रिव्यु) करें, लेकिन ज्यादा बार नहीं। कुछ सप्ताह में एक बार काफी है।   

हैप्पी इन्वेस्टिंग !

डिस्क्लेमर :इस लेख में व्यक्त किये गए विचार इस लेख के लेखक के हैं न कि ग्रो के