इस लेख में, हम एक महत्वपूर्ण विषय के बारे में बात करेगे  कि क्या किसी को अपने अतिरिक्त पैसे को सेविंग बैंक अकाउंट्स में रखना  चाहिए या कोई और तरीका है जिससे थोड़े समय के लिए अपने पैसो का सही तरीके से इन्वेस्टमेंट हो सके ।

कई बार, हमारे पास  अतिरिक्त धन होता है और हम जानते हैं कि हमें इस धन की  कुछ हफ्तों या महीनों तक आवश्यकता नहीं है।
ऐसी स्थिति में, हम आम तौर पर सेविंग बैंक अकाउंट में हमारे अतिरिक्त पैसो को रख देते हैं। यह हमारे देश में आबादी का एक बहुत बड़ा वर्ग करता है ।

सेविंग बैंक अकाउंट्स, जैसा कि नाम से ही स्पष्ठ है , एक इन्वेस्ट करने का खाता नहीं है। यहां जमाकर्ता का पैसा लिक्विड रूप में होता  है मतलब जब भी जमाकर्ता द्वारा आवश्यक हो,वह उस पैसे को किसी भी समय अपने काम के लिए निकाल सकता है ।

इस अकाउंट में, जमाकर्ता को कम समय के लिए जमा पैसे  का बहुत कम ब्याज मिलता है या उसे कोई भी ब्याज नही मिलता है । दोंनो मामलो में से कुछ भी हो सकता है।

हम में से अधिकांश लोग ऐसा ही करते है, लेकिन जिन सवालो के जवाब देने की आवश्यकता है वो ये है –

क्या सेविंग बैंक अकाउंट्स इन्वेस्टमेंट के लिए हमारे पास के अतिरिक्त पैसे को इन्वेस्ट करने का सबसे अच्छा तरीका है?

लिक्विड फंड वह जगह है जहां लिक्विड मनी हमे दिखाई देती है। इसे कम समय में किसी के अतिरिक्त पैसों का बेहतर उपयोग के लिए एक बेहतर  विकल्प के रूप में माना जा सकता है

लिक्विड मनी क्यों?

लिक्विड फंड इन्वेस्टर्स को सेविंग बैंक अकाउंट्स में इन्वेस्ट करने वालो  की तुलना में ज्यादा रिटर्न मिलता है वो भी बहुत कम risk के साथ ।

लिक्विड फंड केवल डेब्ट म्यूचुअल फंड हैं, जिसमें इन्वेंटर का पैसा कुछ समय के लिए  बाजार में लगाया जाता है जैसे कि ट्रेजरी बिल, सरकारी सिक्युरिटी आदि में इन्वेस्ट किया जाता है, जिनमें बहुत  कम रिस्क होता है।

ये फंड उन इक्विपमेंट में निवेश करते हैं जिनकी परिपक्वता 91 दिनों तक होती है।

यहां ध्यान देने योग्य बात यह है कि लिक्विड फंड में investors को बहुत कम समय, यहां तक कि कुछ दिनों या महीनों तक अपने पैसे को इन्वेस्ट करना होता है, और अपने इन्वेस्ट की अवधि पूर्ण होने पर  यह इन्वेस्टर को बहुत अच्छा रिटर्न प्रदान करता है ।

इसलिए यह कम समय के लिए  इन्वेस्ट का सबसे सरल और अच्छा रिटर्न प्रदान करने वाला विकल्प होता  है।

लिक्विड फंड और सेविंग बैंक अकाउंट की तुलना:

1.Returns

कोई भी सेविंग बैंक एकाउंट  आपकी कड़ी मेहनत से कमाए धन का  आपको को बहुत कम दर से ब्याज देता  है।

यह ब्याज आमतौर पर 3.5% -4% की दर से  होता है। कुछ बैंक हैं जो 6% तक की उच्च ब्याज दर प्रदान करते हैं। लेकिन इन बैंकों में भी आमतौर पर मिनिमम बैलेंस रखना  होता है।

इसकी तुलना में, लिक्विड फंड योजनाए आपको 6.6% -6.7% की उच्च दर से रिटर्न प्रदान करती हैं।

इसमे  मिनिमम बैलेंस या मिनिमम इन्वेस्ट  के रूप में कुछ भी बाध्यता नही होती है । इसलिए, एक कम समय की  अवधि के लिए लिक्विड फंड हाई रिटर्न प्रदान करते हैं।

2.Risk

लिक्विड फंड्स  में बहुत कम रिस्क होता है क्योंकि वे मुख्य रूप से डेब्ट फंड्स में निवेश करते हैं जिसमे बहुत कम रिस्क होता है।

हालांकि, यह समझना महत्वपूर्ण है कि लिक्विड फंड  में या किसी भी म्यूचुअल फंड में इन्वेस्टमेंट विशेष रूप से, बाजार पर निर्भर रहता है। बाजार की परिस्थितियों के आधार पर, नेट एसेट वैल्यू (NAV) बदलता है।

सेविंग बैंक अकाउंट्स में आम तौर पर कोई इन्वेस्टमेंट का रिस्क नहीं होता है। इसलिए, यह बाद में ब्याज को प्रभावित करता है इसलिए इसमें रखे पैसे का रिटर्न बहुत कम मिलता है ।

3.Tax outgo

इंडेक्सेशन के लाभ के कारण लिक्विड फंड में कम टैक्स  लगता है।इंडेक्सेशन में लाभ की अनुमति मिलने के बाद 3 साल से अधिक समय के लिए लिक्विड फंड योजनाओं पर ज्यादा समय के लिए  लाभ का 20% की दर से टैक्स लगाया जाता है।

इसलिए, लिक्विड फंड में इन्वेस्ट करने  में, इंडेक्स के लाभ के कारण टैक्स की दर कम हो जाती है। यह इन्वेस्टर के नेट टैक्स  में एक बड़ा अंतर पैदा करता है।

जबकि, सेविंग बैंक अकाउंट्स टैक्स में लाभ के लिए नहीं होते है। सेविंग बैंक एकाउंट में सिर्फ ₹ 10,000 तक के ब्याज पर टैक्स में  छूट दी गई है

निष्कर्ष(Conclusion)

उपरोक्त लिखी बातो का पूर्ण तरीके विश्लेषण करने पर, यह कहना ठीक हो सकता है कि सेविंग बैंक अकाउंट में हमारे अतिरिक्त पैसे को जमा करने से ज्यादा फायदेमंद है की उस पैसे को लिक्विड फंड में लगा दिया जाए ।

जहां तक रिटर्न का सवाल है, ज्यादातर बैंकों के सेविंग एकाउंट में  जमा पैसो की तुलना में लिक्विड फंड अधिक रिटर्न प्रदान करते हैं।

सेविंग बैंक एकाउंट में पैसा जमा करने की तुलना में, लिक्विड फंड में इन्वेस्ट का रिस्क एक छोटे से  मार्जिन से थोड़ा ज्यादा होता है। कम रिस्क वाले स्तर पर एक अच्छा रिटर्न प्राप्त करना और हाई लिक्विडिटी को बनाए रखते हुए यह  इन्वेस्टरों के लिए एक बहुत अच्छा विकल्प है।

 

इन्वेस्टमेंट की शुभकामनाएं